मदर टेरेसा के अनमोल विचार और संक्षिप्त परिचय | Mother Teresa Quotes In Hindi

Mother Teresa quotes in hindi : नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित मदर टेरेसा को कौन नहीं जानता। जिन्होंने अपना पूरा जीवन गरीब और बीमारी से पीड़ित लोगों के लिए समर्पित कर दिया था। अल्बानिया मूल की मदर टेरेसा के उन सेवा कार्यों को आज भी पूरी दुनिया में अभूतपूर्व माना जाता हैं, जो उन्होंने भारत में खासकर के कोलकाता में गरीब, अनाथ और बीमारियों से पीड़ित लोगों के लिए किया था।

मदर टेरेसा के अनमोल विचार और संक्षिप्त परिचय | Mother Teresa Quotes In Hindi
मदर टेरेसा के अनमोल विचार

आज मदर टेरेसा दुनिया में नहीं है पर उनके मानवता के कार्य उनके द्वारा स्थापित संस्था के माध्यम से आज भी गरीब लोगों की सेवा कर रहे हैं। उनके विचार आज भी लोगों को जोड़ने का काम करते हैं। मदर टेरेसा के विचारों ने समाज में शांति और प्रेम बनाए रखने का काम किया है। खास कर के मदर टेरेसा के विचारों में गरीबों की मदद और उनके प्रति प्यार ही नजर आता हैं।

इस लेख में हम आपके साथ मदर टेरेसा के अनमोल विचार साझा कर रहे हैं। जो आपके जीवन में दूसरों के प्रति प्यार-महोब्बत बढ़ा देंगे।

मदर टेरेसा के अनमोल विचार, mother teresa quotes in hindi


1. "गरीबी ही हमें ये सीखा सकती है कि, गरीबों के साथ हमारा व्यवहार कैसा होना चाहिए।" - मदर टेरेसा

2. "हमें एक दूसरे से प्रेम करना चाहिए ना की समस्त संसार से क्योंकि यदि हम एक दूसरे से प्रेम करने लगते है तो समस्त संसार इसमें समा जाता है।" - मदर टेरेसा

3) "आप जहाँ भी जाए सिर्फ प्यार ही फैलाए, जो भी आपके पास आये वह और ज्यादा खुश होकर लौटे।" - मदर टेरेसा

4. "सही मायने में जीवन वो है जिसका हर क्षण हम दुसरों के लिए जीते है।" - मदर टेरेसा

5. "जरूरी नही कि सुंदर लोग हमेशा अच्छे हो, लेकिन अच्छे लोग हमेशा सुंदर होते है।" - मदर टेरेसा

6. "अपना जीवन हमेशा सरलता पूर्वक जीयो, ताकि दूसरे भी आपकी तरह सरल जीवन जी सके।" - मदर टेरेसा

7. "यदि आप सौ लोगों को खाना नहीं दे सकते, तो कम से कम एक को जरूर खिलाएं।" - मदर टेरेसा

8. "जब हम एक दूसरे से मुस्कुराहट के साथ मिलते है, तो सही मायने में वही प्रेम की शुरआत होती है।" - मदर टेरेसा

9. "ईश्वर कभी यह अपेक्षा नहीं करता कि हम सफल हों। वो तो सिर्फ इतना ही चाहते हैं कि हम प्रयास करें।" - मदर टेरेसा

10. "दान देते समय हमेशा उसके अंदर प्रेम का भाव अवश्य सम्मिलित करे, क्योंकि लेने वाला दान को नहीं आपके प्रेम को देखता है।" - मदर टेरेसा

11. "जो लोग अपने भविष्य की चिंता नहीं करते, वे लोग अपने आज को बर्बाद कर रहे है।" - मदर टेरेसा

12. "आप अपनी ज़िंदगी में प्यार फ़ैलाने के लिए क्या कर सकते हैं? तो एक उपाय हैं घर जाइये और अपने परिवार से प्यार कीजिये।" - मदर टेरेसा

13. "प्रेम की शुरुआत हमेशा अपने घर से करे। उसके बाद अपने दोस्तों से।" - मदर टेरेसा

14. "सिर्फ खुद के लिए जिया गया जीवन कोई जीवन नही होता है।" - मदर टेरेसा

15. "यीशु ने यह नहीं कहा की पूरी दुनिया से प्रेम करो उन्होंने कहा है कि एक दूसरे से हमेशा प्रेम करो।" - मदर टेरेसा

16. "आप की मुस्कुराहट ही दुसरो के प्रति शांति का प्रतीक बनती है।" - मदर टेरेसा

17. हमारे जीवन में कुछ लोग एक आशीर्वाद की तरह आते है और कुछ लोग सबक बन कर।" - मदर टेरेसा

18. "हर छोटी से छोटी चीज में भी ईमानदार रहिये क्योंकि इसी में आपकी शक्ति निर्भर करती है। " - मदर टेरेसा

19. "हमेशा शांति का मार्ग चुने क्योंकि शांति ही आपकी सफलता का प्रतीक है।" - मदर टेरेसा

20. "एक मनुष्य को रोटी से अधिक अपने सम्मान की भूख होती है।" - मदर टेरेसा


21. "जख्म भरने वाले हाथ प्रार्थना करने वाले होंठ से कहीं ज्यादा पवित्र हैं।"



मदर टेरेसा का संक्षिप्त परिचय, Brief Introduction of Mother Teresa


* मदर टेरेसा का जन्म 26 अगस्त 1910 को अल्बानिया (वर्त्तमान सोप्जे, मेसेडोनिया गणराज्य) में हुआ था।

* दुनिया उन्हें मदर टेरेसा के नाम से जानती है, लेकिन वास्तविक में उनका नाम अगनेस गोंझा बोयाजिजू था। मदर टेरेसा कैथोलिक नन थी।

* मदर टेरेसा ने भारत के दीन-दुखियों, कुष्ठ रोगियों और अनाथों की सेवा करने में अपनी पूरी जिंदगी लगा दी।

* मदर टेरेसा ने 1948 में स्वेच्छा से भारतीय नागरिकता ले ली थी। और 1950 में 12 सदस्यों के साथ मिशनरीज़ ऑफ चैरिटी की शुरुआत की थी और अब यह संस्था 133 देशों में काम कर रही है. 133 देशों में इनकी 4501 सिस्टर हैं.


* 19 दिसंबर 1979 को गरीबों और बेसहारों की मसीहा मदर टेरेसा को नोबल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। और 1980 में भारत सरकार ने उन्हें भारत रत्न से नवाजा था। इसके अलावा उन्हें टेम्पटन प्राइज, ऑर्डर ऑफ मेरिट और पद्म श्री से भी नवाजा गया है.

* मदर टेरेसा के अंतिम समय में उन पर कई लोगों ने आरोप भी लगाए। उन पर गरीबों की सेवा करने के बदले उनका धर्म परिवर्तन करवा कर ईसाई बनाने का आरोप लगाया गया था। लगातार गिरती सेहत की वजह से 5 सितंबर 1997 को उन्होंने दुनिया को अलविदा कहा था।

आशा करते हैं मदर टेरेसा के अनमोल विचार आपके लिए जरूर प्रेरणादायक साबित होगे। मदर टेरेसा को लेकर आपके विचार हमारे साथ जरूर शेयर करें।

और ऐसे ही मोटीवेशनल और इंस्पायरिंग लेखों को पढ़ने के लिए www.anmolhindi.in के साथ जुड़े रहे। धन्यवाद


ये भी जरूर पढ़ें ;


2) ग्रेगोरियन कैलेंडर का इतिहास, जाने कैसे बना विश्व व्याप्त कैलेंडर


3) स्वामी विवेकानंद के 30 अनमोल विचार | दिखाते हैं जीने का रास्ता | Swami vivekanand motivational quotes in hindi


4) लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के 30 अनमोल विचार | हजारों लोगों के हैं पथ प्रदर्शक

Reactions

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ