लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के 30 अनमोल विचार | हजारों लोगों के हैं पथ प्रदर्शक

Lokmanya Bal Gangadhar Tilak inspirational Quotes In Hindi,
लोकमान्य तिलक के 30 अनमोल विचार


Lokmanya Bal Gangadhar Tilak inspirational Quotes In Hindi : आज तक भारत को कई महापुरुष मिले हैं, और उनमें से एक हैं लोकमान्य तिलक। लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक ने भारत की स्वतंत्रता और स्वशासन की स्थापना के लिए कड़ा संघर्ष किया, जिसके लिए उन्हें जेल भी जाना पड़ा। लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक को हिंदुस्तान के एक प्रखर नेता, स्वतंत्रता सेनानी, समाज सुधारक, भारतीय इतिहास, संस्कृत, हिन्दू धर्म, गणित और खगोल विज्ञान के विद्वान के रूप में जाना जाता हैं।



23 जुलाई 1856 को महाराष्ट्र के रत्नागिरी जिले के एक ब्राह्मण परिवार में जन्मे लोकमान्य तिलक ने सबसे पहले ब्रिटिश राज में पूर्ण स्वराज की मांग उठाई। इस दौरान उनका "स्वराज मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है और मैं उसे लेकर ही रहूँगा" यह कथन लोगों में बहुत ही प्रसिद्ध हुआ था। उनके अनुयायियों ने उन्हें 'लोकमान्य' की उपाधि दी, जिसका अर्थ है लोगों द्वारा प्रतिष्ठित माना जाना।



लोकमान्य तिलक ने स्वराज प्राप्ति के लिए लोगों को जागरूक करने के लिए मराठा और केशरी इन दो दैनिक अखबारों की भी शुरुआत की। और इन अखबारों में अपने कलम के जरिए तत्कालीन अंग्रेजी शासन की क्रूरता और भारतीय संस्कृति के प्रति हीन भावना की खूब आलोचना करते थे.



इस लेख में हम लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के उन अनमोल विचारों को जानेंगे, जो आज भी हजारों लोगों के पथ प्रदर्शक है।



बाल गंगाधर तिलक के अनमोल विचार, inspirational quotes in hindi


1. "स्वराज मेरा जन्म सिद्ध अधिकार है, और मैं इसे लेकर ही रहूँगा।"



2. "आप केवल कर्म करते जाइए, उसके नतीजों पर लक्ष्य मत दीजिये।"



3. "ईश्वर कठिन परिश्रम करने वालों के लिए ही अवतार लेते है ना की आलसी व्यक्तियों के लिए, इस लिए कार्य करना आरंभ करें।"



4. "कमजोर नहीं बल्कि शक्तिशाली बनें और यह विश्वास रखें की ईश्वर हमेशा आपके साथ है।"



5. "जीवन एक ताश के खेल की तरह है, सही पत्तों का चयन हमारे हाथ में नहीं है, लेकिन ताश के पत्तों के साथ अच्छा खेलना हमारी सफलता को निर्धारित करता है।"



6. "जब लोहा गरम हो तभी उस पर चोट कीजिये, आपको निश्चय ही सफलता का यश प्राप्त होगा।"



7. "आपका लक्ष्य किसी जादू से नहीं पूरा होगा, बल्कि आपको ही अपना लक्ष्य प्राप्त करना पड़ेगा।"


8. "मुश्किल समय में खतरों और असफलताओं से बचने का प्रयास मत कीजिए, वे तो निश्चित रूप से आपके मार्ग में आयेंगे ही।"


9. "हम हमारे सामने सही रास्ते के प्रकट होने के इंतजार में अपने दिन खर्च करते हैं, लेकिन हम भूल जाते हैं कि रास्ते इंतजार करने के लिए नहीं, बल्कि चलने के लिए बने हैं।"


लोकमान्य तिलक के best motivational quotes in hindi


10. "एक बहुत प्राचीन सिद्धांत है कि, ईश्वर उन्हीं की सहायता करता है, जो अपनी सहायता स्वयं करते हैं।"


11. "महान उपलब्धियाँ कभी भी सरलता से नहीं मिलती और सरलता से मिली उपलब्धियाँ महान नहीं होतीं।”


12. "यदि भगवान छुआछूत को मानता है, तो मैं उसे भगवान नहीं कहूँगा।"


13. "मानव स्वभाव ही ऐसा है कि हम बिना उत्सवों के नहीं रह सकते, उत्सव प्रिय होना मानव स्वभाव है। हमारे त्यौहार होने ही चाहिए।"


14. "मनुष्य का प्रमुख लक्ष्य भोजन प्राप्त करना ही नहीं है! एक कौवा भी जीवित रहता है और जूठन पर पलता है।"


15. "अगर आप रास्ते में रुक कर हर भौंकने वाले कुत्ते पर पत्थर फेंकेंगे, तो आप कभी अपने गंतव्य तक नहीं पहुंच पाएंगे। बेहतर होगा कि हाथ में बिस्कुट रखें और आगे बढ़ते जायें।"


16. "प्रातः काल में उदय होने के लिए ही सूरज संध्या काल के अंधकार में डूब जाता है और अंधकार में जाए बिना प्रकाश प्राप्त नहीं हो सकता।"



17. "कर्त्तव्य पथ पर गुलाब-जल नहीं छिड़का जाता और ना ही उस में गुलाब उगते हैं।"



18. "यदि हम स्वयं अपने हितों की रक्षा के लिए जागरूक नहीं होंगे तो दूसरा कोन होगा? हमे इस समय सोना नहीं बल्कि अपने लक्ष्य प्राप्ति के लिए प्रयत्न करना चाहिये।"


19. "धर्म और व्यावहारिक जीवन अलग नहीं हैं। सन्यास लेना जीवन का परित्याग करना नहीं है। असली भावना सिर्फ अपने लिए काम करने की बजाए देश को अपना परिवार बना मिलजुल कर काम करना है। इसके बाद का कदम मानवता की सेवा करना है और अगला कदम ईश्वर की सेवा करना है।"


लोकमान्य तिलक के motivational thoughts in hindi


20. "भारत का तब तक खून बहाया जा रहा है, जब तक यहाँ सिर्फ कंकाल शेष ना रह जाएं।”


21. "प्रगति स्वतंत्रता में निहित है। बिना स्वशासन के न औद्योगिक विकास संभव है, न ही राष्ट्र के लिए शैक्षिक योजनाओं की कोई उपयोगिता है… देश की स्वतंत्रता के लिए प्रयत्न करना सामाजिक सुधारों से अधिक महत्वपूर्ण है।"


22. "यदि हम किसी भी देश के इतिहास को अतीत में जाएं, तो हम अंत में मिथकों और परम्पराओं के काल में पहुंच जाते हैं जो आखिरकार अभेद्य अंधकार में खो जाता है।"


23. "एक अच्छे अखबार के शब्द अपने आप बोल देते हैं।"


24. "ये सच है कि बारिश की कमी के कारण अकाल पड़ता है लेकिन ये भी सच है कि भारत के लोगों में इस बुराई से लड़ने की शक्ति नहीं है।"


25. "भारत की गरीबी पूरी तरह से वर्तमान शासन की वजह से है।"


26. "क्या पता ये भगवान की मर्जी हो की मैं जिस वजह का प्रतिनिधित्व करता हूँ, उसे मेरे आजाद रहने से ज्यादा मेरे दुखी होने से अधिक लाभ मिले।”


27. "भूविज्ञानी पृथ्वी का इतिहास वहां से उठाते हैं जहां से पुरातत्वविद् इसे छोड़ देते हैं, और उसे और भी पुरातनता में ले जाते हैं।"


28. "गर्म हवा के झोंकों में जाए बिना, कष्ट उठाये बिना,पैरों मे छाले पड़े बिना स्वतन्त्रता नहीं मिल सकती। बिना कष्ट के कुछ नहीं मिलता।"


29. "ये सत्य है कि बारिश की कमी के कारण अकाल पड़ता है लेकिन ये भी सच है कि भारत के लोगों में इस बुराई से लड़ने की शक्ति नहीं है।"


30. "गीता की सबसे व्यावहारिक शिक्षा, और जिसके लिए यह दुनिया के पुरुषों के लिए रुचि और मूल्य का है, जिनके साथ जीवन संघर्षों की एक श्रृंखला है, किसी भी रुग्णता को रास्ता नहीं देना है जब कर्तव्य कठोरता और भयानक चीजों का सामना करने के लिए साहस की मांग करता है।"


तो आशा करते हैं लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के ये inspirational thoughts आपके लिए भी पथ प्रदर्शक साबित होंगे। लोकमान्य तिलक के ये अनमोल विचार आपको कैसे लगे। कमेंट में जरूर बताए।


और ऐसे ही महापुरुषों के अनमोल विचारों को जानने के लिए www.anmolhindi.in के साथ जुड़े रहे। धन्यवाद


ये भी पढ़ें :


1. गुरु नानक देव जी के 15 अनमोल वचन, बनाए अपने जीवन को सफल
Reactions

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ