पत्रकार कैसे बने? योग्यता, स्किल्स, सैलेरी, कोर्सेज, अवसर समेत जाने पूरी जानकरी

पत्रकार कैसे बने? how to become a journalist? आज एक पत्रकार होना भी बहुत बड़ी बात हैं. वो पत्रकार ही होता हैं, जो हमें देश-दुनिया की छोटी-बड़ी घटनाओं से परिचित कराता हैं. वो पत्रकार ही होता हैं, जो आम जनता से लेकर देश के प्रधानमंत्री तक का interview लेता हैं. वो पत्रकार ही होता हैं, जो समाज के मुद्दों को सरकार के सामने पेश करता हैं. वो पत्रकार ही होता हैं, जो जनता और सरकार के बीच के संपर्क का माध्यम होता हैं. 


पत्रकार कैसे बने? योग्यता, स्किल्स, सैलेरी, कोर्सेज, अवसर समेत जाने पूरी जानकरी
पत्रकार कैसे बने

तो, क्या आप अपने जीवन में कुछ अलग मुकाम हासिल करना चाहते हैं? क्या आप चीजों को एक अलग ही नजरिये से देखते हैं, और लेखन में भी दिलचस्पी रखते हैं? अगर हाँ, तो आपके लिए पत्रकारिता journalism की फिल्ड बेहतर साबित हो सकती हैं. आपको बता दे कि, मौजूदा समय में भारतीय मीडिया इंडस्ट्री में काफी ग्रोथ देखने को मिल रही हैं, जिसके हिसाब से यह फिल्ड आपके भविष्य के लिए उज्वल हो सकती हैं. और आप इस फिल्ड में एक अच्छे करियर के साथ साथ नाम और पैसा भी कमा सकते हो.


तो, क्या लोकतंत्र का चौथा स्तंभ कहे जाने वाले पत्रकारिता jornalism की फिल्ड में आप एक पत्रकार के रूप में अपना सफल करियर बनाने के लिए पत्रकार कैसे बने how to become a journalist का विचार कर रहे हैं. अगर हाँ तो इस लेख को अंत तक जरुर पढ़े. हमनें इस लेख में पत्रकार कैसे बने how to become a journalist के बारे में पूरी जानकरी प्रदान की हैं. जो आपको एक पत्रकार बनने में काफी मददगार साबित हो सकती हैं.


पत्रकार कैसे बने? how to become a journalist?

वर्तमान में पत्रकारिता journalism में समय के साथ काफी बदलाव देखने मिल रहा हैं. आज इस क्षेत्र में कई प्लेटफॉर्म देखने को मिलते हैं. पत्रकारिता की सफर प्रिंट से शुरू हुई थी. और आज वेब पर आ चुकी हैं.

पत्रकारिता और मास कम्युनिकेशन की फील्ड में आने के लिए आपको इससे जुड़े कोर्स करना होगा. इस फील्ड से जुड़े कई कोर्स है जैसे बैचलर डिग्री, मास्टर डिग्री और डिप्लोमा कोर्सेस. इसके अलावा एमफिल और पीएचडी जैसे कोर्से भी इस फीलड में उपलब्ध है.


क्या एक पत्रकार, एक अच्छा करियर विकल्प है?

सबसे पहले जानते हैं कि, क्या एक पत्रकार अच्छा करियर विकल्प हैं? इसका जवाब हाँ में ही मिलेगा. लेकिन आप इस भूमिका के लिए कितने फिट बैठते है यह आप पर निर्भर करता हैं. पत्रकारिता एक सफल करियर विकल्प है और अविश्वसनीय रूप से संतोषजनक भी है.

आज मास मीडिया और संचार चैनलों में काफी वृद्धि देखने को मिल रही हैं. फिर भी दर्शक संख्या में भी जबरदस्त तेजी आई है. और कई एस्पिरेंट्स के कारण पत्रकारिता एक आकर्षक कैरियर मार्ग बन गया हैं. पत्रकारिता राष्ट्र के विकास में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं.

पत्रकार बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता

पत्रकार बनने के लिए किसी भी माध्यम से 12 वीं पास होना जरुरी हैं. 12 वीं के बाद डिप्लोमा, सर्टिफिकेट या डिग्री का कोर्स कर के आप पत्रकारिता में अपना करियर बना सकते हैं. लेकिन ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद आप पत्रकारिता के क्षेत्र में आए, तो वह इस क्षेत्र में सफल करियर बनाने में आपके लिए बेहतर साबित हो सकता हैं.


ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद आप पत्रकार बनने के लिए पीजी डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन, डिप्लोमा इन पब्लिक रिलेशन कर सकते हैं, वहीं दो वर्षीय पोस्ट ग्रेजुएशन भी कर के इस क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं. पीजी करने के बाद आप इस क्षेत्र में पीएचडी या एमफील भी कर सकते हैं. आपको बता दे कि, भारत के कई कॉलेजों में पत्रकारिता और मास कम्युनिकेशन के कोर्सेज़ पढ़ाए जाते हैं.


पत्रकारिता के प्रमुख पाठ्यक्रम(courses)

* स्नातक स्तर पर पाठ्यक्रम, Graduate Courses

सभी पाठ्यक्रमों के लिए किसी भी स्ट्रीम से 12 वी पास होना आवश्यक.

1) डिप्लोमा इन जर्नलिज्म, Diploma in Journalism

अवधि : 1 साल

2) डिप्लोमा इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन, Diploma in Journalism and Mass Communication

अवधि   : 2 साल 

3) बीए इन जर्नलिज्म, BA in Journalism

अवधि    : 3 साल

4) बैचलर ऑफ़ जर्नलिज्म, Bachelor of Journalism

अवधि   : 3 साल

5) बीए इन कनवर्जेन्ट जर्नलिज्म,  BA in Convergent Journalism

अवधि  : 3 साल

6) बैचलर इन जर्नलिज्म एंड मास कम्यूनिकेशन, Bachelor in Journalism and Mass Communication

अवधि   : 3 साल

7) बीए इन मास मीडिया, BA in Mass Media

अवधि     : 3 साल

8) बीए इन जर्नलिज्म एंड कम्युनिकेशन स्टडीज, BA in Journalism and Communication Studies

अवधि  : 3 साल

9) बीए इन स्क्रिप्ट राइटिंग, BA in Script Writing

अवधि   : 3 साल

10) बीएससी इन मास कम्युनिकेशन, जर्नलिज्म एंड एडवरटाइजिंग, B.Sc in Mass Communication, Journalism and Advertising

अवधि   : 3 साल

11) बीएससी इन मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म, B.Sc in Mass Communication and Journalism

अवधि  : 3 साल

12) बैचलर ऑफ मीडिया सायंस, Bachelor of Media Science

अवधि। : 3 साल


* स्नातकोत्तर स्तर पर पाठ्यक्रम, Post Graduation Courses

सभी पाठ्यक्रमों के लिए स्नातक की डिग्री आवश्यक

1) पीजीडी इन जर्नलिज्म, PGD in Journalism

अवधि : 1 साल

2) पीजी डिप्लोमा इन रेडियो एंड टीवी जर्नलिज्म, PG Diploma in Radio and TV Journalism
अवधि  : 1 साल

3) पीजी डिप्लोमा इन प्रिंट एंड ब्रोडकास्ट जर्नलिज्म, PG Diploma in Print & Broadcast Journalism

अवधि   : 1 साल

4) पीजी डिप्लोमा इन एक्टिंग, PG Diploma in Acting

अवधि   : 1 साल

5) पीजी डिप्लोमा इन डायरेक्शन एंड स्क्रीनप्ले राइटिंग, PG Diploma in Direction and Screenplay Writing

अवधि   : 1 साल

6) पीजी डिप्लोमा इन एडिटिंग, साउंड रेकॉर्डिंग एंड डिजाइन, PG Diploma in Editing, Sound Recording & Design

अवधि    : 1 साल

7) एमए इन जर्नलिज्म एंड कम्युनिकेशन, MA in Journalism and Communication

अवधि    : 2 साल 

8) एमए इन एंटरटेनमेंट, मीडिया एंड एडवरटाइजिंग, MA in Entertainment, Media and Advertisement

अवधि   : 2 साल

9) एमए इन मल्टीमीडिया, MA in Multimedia

अवधि   : 2 साल

10) मास्टर्स इन कम्युनिकेशन, Masters in Communication

अवधि   : 2 साल

11) मास्टर्स इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन, Masters in Journalism and Mass Communication

अवधि    : 2 साल

12) एमएससी इन टेलीविज़न एंड फिल्म प्रोडक्शन, M.Sc in Television and Film Production

अवधि    : 2 साल


पत्रकारिता पाठ्यक्रम की फीस, Journalism Course Fees 


पत्रकारिता पाठ्यक्रम की फीस की बात करे तो, सरकारी कॉलेज या विश्वविद्यालय में यह बहुत ही कम होती हैं, वहीं प्राइवेट कॉलेज या यूनिवर्सिटी में अधिक होती हैं.

सरकारी कॉलेज या यूनिवर्सिटी में पत्रकारिता पाठ्यक्रम की फीस एक वर्ष के लिए करीब 20 हजार के बीच हो सकती हैं. तो प्राइवेट कॉलेज में 50 हजार से लेकर 1.20 लाख प्रतिवर्ष हो सकती हैं.


 पत्रकारिता की पढ़ाई के लिए कुछ प्रसिद्ध संस्थान 

1) इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन (आईआईएमसी) दिल्ली, 

2) एजेके मास कम्युनिकेशन रिसर्च सेंटर, दिल्ली, 

3) सिम्बोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ मास कॉम्युनिकेशन, पुणे, महाराष्ट्र 

4) सावित्रीबाई फुले यूनिवर्सिटी, पुणे, महाराष्ट्र

5) हैदराबाद यूनिवर्सिटी, हैदराबाद

6) मनिपाल स्कूल ऑफ कम्युनिकेशन, मनिपाल, 

7) जेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ़ कम्युनिकेशन, मुंबई, महाराष्ट्र

8) बैंगलोर यूनिवर्सिटी, कर्नाटक

9) इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ जर्नलिज्म एंड न्यू मीडिया, बैंगलोर, कर्नाटक

10) शोपिया श्री बीके सोमानी पॉलिटेक्निक, मुंबई, महाराष्ट्र

11) डिपार्टमेंटन ऑफ जर्नलिजम एंड मास कम्युनिकेशन, बीएचयू, बनारस, उत्तर प्रदेश

12) माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय –भोपाल

13) आंध्रा यूनिवर्सिटी, आंध्रप्रदेश

14) अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी 

15) एशियन कॉलेज ऑफ जर्नलिज्म


यह भी पढ़े, भारतीय पुलिस सेवा में करियर, मैं कैसे बनूँगा IPS Officer

पत्रकारिता की फिल्ड

प्रिंट मीडिया: 

पत्रकारिता का सबसे पुराना फिल्ड हैं प्रिंट मीडिया. फिर भी आज भी यह पहले जैसा ही काफी पॉपुलर बना हुआ हैं. आपको बता दे कि, पुरे भारत में अलग-अलग भाषाओं में मिलाकर करीब 70 हजार समाचार पत्र और मैगज़ीन प्रकाशित होते हैं. इस फिल्ड में आपको अवसर मिल सकता हैं.

इलेक्ट्रनिक मीडिया :

आज यह पत्रकारिता का सबसे लोकप्रिय प्लेटफॉर्म बन गया हैं. भारत में करीब हर भाषा में टीवी चैनल मौजूद हैं. और हर साल एक ना एक टीवी समाचार चैनल अस्तित्व में आने के कारण इसमें भी काफी अवसर उपलब्ध रहते हैं. अगर आप में कम्युनिकेशन स्किल अतिउत्तम हैं, तो यह फिल्ड आपके लिए बेस्ट हैं.

रेडियो :

रेडियो भी पत्रकारिता का एक माध्यम हैं. इसमें कई प्राइवेट एफएम चैनल होने के कारण यहाँ भी रोजगार के अवसर उत्पन्न होते रहते हैं. इस में भी कम्युनिकेशन स्किल के साथ साथ अपने आवाज में दम होना चाहिए और विविधता भी.

वेब पत्रकारिता :

इंटरनेट के बाद स्मार्ट फोन के आने से पत्रकारिता का यह फिल्ड भी काफी पॉपुलर बनता जा रहा हैं. आज हर समाचार पत्र, टीवी चैनल और रेडियो चैनलों की वेब पोर्टल हैं. और इन वेब पोर्टलों के जरिए ही ये चैनल लोगों से समाचार का आदान-प्रदान करते हैं. 

पब्लिक रिलेशनशिप :

यह क्षेत्र पत्रकारिता के अंतर्गत, ही आता हैं, पर इससे थोड़ा हटके हैं. पत्रकारिता की पढ़ाई के साथ इसे भी पढ़ाया जाता हैं. इस क्षेत्र में किसी व्यक्ति, संस्थान की छवि को लोगों की नजर में सकारात्मक रुप से प्रस्तुत करना होता है. इसका कोर्स करने के बाद आपको बिजनेस हाउसेज, पॉलिटिकल पर्सन, सेलेब्रेटी और संस्थानों में अवसर मिल सकता हैं.

पत्रकार के लिए आवश्यक स्किल्स

एक सफल पत्रकार बनने के लिए आप में कोई प्रकार के स्किल्स होना बहुत जरुरी हैं. अगर आप में निम्नलिखित स्किल्स हैं, तो आपको पत्रकार बनने से कोई नहीं रोक सकता. आप में अच्छा लिखने की क्षमता होनी चाहिए. साथ साथ अपनी मातृभाषा के अलावा हिंदी और अंग्रेज़ी पर भी भारी पकड़ होनी चाहिए. वहीं, संभाषण करने में बेहतर, खबर सूंघने की क्षमता, खबर की समझ, विशलेषण करने की क्षमता, निडर, साहसी और ईमानदारी जैसे गुण भी आप में होने चाहिए.

इनके अलावा विषम परिस्थितियों में भी काम करने की क्षमता, समय का पाबंद, खबर के स्रोत बनाने की योग्यता और करेंट मुद्दों की जानकारी रखना जैसे स्किल्स भी आवश्यक होते हैं.


पत्रकारिता में नौकरी के अवसर:

पत्रकारिता का कोर्स पूरा करने के बाद आप प्रिंट, रेडियो, वेब, इलेक्ट्रिक मीडिया, एंटरटेनमेंट, जनसंपर्क में अपना करियर बना सकते हैं. आपको न्यूज एजेंसी, न्यूज वेबसाइट, प्रोडक्शन हाउस, प्राइवेट और सरकारी न्यूज चैनल, प्रसार भारती, पब्लिकेशन डिजाइन, फिल्म मेकिंग में रोजगार से अवसर मिलते हैं. और आप चाहें तो फ्रीलान्सिंग भी कर सकते हैं.


पत्रकार को कितनी मिलती हैं सैलेरी

पत्रकार की सैलेरी उनके अनुभव पर निर्भर होती हैं. एक नए पत्रकार को शुरुआत में 15 हजार से 20 हजार तक मिल सकती हैं. थोड़ा अनुभवी होने के बाद सैलेरी में इजाफा कर दिया जाता हैं. वहीं, दिग्गज अनुभवी पत्रकार को 1 लाख से भी अधिक सैलेरी मिलती हैं.


पत्रकार बनने के लिए अति आवश्यक

पत्रकारिता के क्षेत्र में सफल करियर बनाने के लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण बात यह है कि, आप मानसिक रूप से मजबूत हो, यानी किसी भी परिस्थिति में खुद पर विश्वास करके काम पर ध्यान देना. वहीं, देश-दुनिया की हर छोटी-बड़ी खबर से खुद को अपडेट रखना पत्रकारिता का सबसे बड़ा नियम है. आपके विचारों में निष्पक्षता होनी चाहिए, कोई भी खबर को लिखने या कहने से पहले आपके पास उसके सबूत होने चाहिए. आपकी सोच किसी भी विषय पर एक विश्लेषक की तरह हो, यह सबसे ज्यादा जरूरी होता है.

भारतीय प्रशासनिक सेवा में करियर, मैं कैसे बन सकता हूँ IAS Officer


तो आशा करते हैं आपको पत्रकार कैसे बने? यह लेख जरुर पसंद आया होगा. और आपको पत्रकारिता में करियर बनाने के लिए फायदेमंद साबित होगी. यह लेख आपको कैसा लगा कमेंट सेक्शन में अपने विचार जरुर शेयर करे.

और अगर आप इस लेख को लेकर कोई सुझाव देना चाहते होंगे तो हमें संपर्क करे. धन्यवाद

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने