Television क्या है | Television का आविष्कार किसने और कब किया | भारत में टेलीविजन की शुरुआत कब हुई

Who invented television in hindi : विज्ञान के अद्धभुत आविष्कारों में से एक Television, आज लोगों के मनोरंजन का मुख्य साधन बना हुआ है। पहले लोग नृत्य और नाटकों के जरिए मनोरंजन का मजा लेते थे, वो भी आयोजित स्थान पर जाकर। लेकिन टेलीविजन के अवतार से लोगों का घर पर ही मनोरंजन होने लगा, वो भी अपना मन पसंद कार्यक्रम देखकर। यहाँ वहाँ भटकने की जरूरत ही नहीं रही।


Television ka aavishkar kisane kiya, who invented television
टेलीविजन का आविष्कार किसने और कब किया


आज हम टेलीविजन की मदद से देश की ही नहीं दुनिया की हर खबर से updated रहते हैं। आज सैकड़ों टीवी चैनल्स अस्तित्व में हैं, जो लोगों की जरूरत के अनुरूप अलग अलग कार्यक्रमों को टेलीविजन पर प्रसारित करते हैं। और टेलीविजन पर हम अपने मन पसंद कार्यक्रम को देखकर मजा उठाते हैं। लेकिन आप यह नहीं जानते होंगे कि, हमारे जीवन का अहम हिस्सा बन चुके इस टेलीविजन का आविष्कार कैसे हुआ और किसने किया?


आज के इस लेख में हम आपको टेलीविजन के आविष्कार की पूरी जानकारी प्रदान करेंगे। और उस शख्स से मिलाएंगे, जिन्होंने टेलीविजन का आविष्कार कर के हमारी भागदौड़ भरी जिंदगी में मनोरंजन का आनंद उठाने का जरिया उपलब्ध कराया।


Television क्या है, TV का आविष्कार किसने और कब किया, भारत में टेलीविजन की शुरुआत कब हुई


Television क्या है? (संक्षिप्त में)


Television को संक्षिप्त में TV भी कहा जाता है। हिंदी में इसे दुरदर्शन के रूप में जाना जाता है। टेलीविजन को हिंदी में दूरदर्शन इस लिए कहा जाता है कि, इसके माध्यम से हम दूर की वस्तुओं का दर्शन घर बैठे कर सकते हैं। दूरदर्शन पर दृश्यों को देखकर ऐसा महसूस होता है कि, यह घटनाएं कहीं दूर नहीं बल्कि हमारी आंखों के सामने घट रही हैं। और शायद इसी वजह से आज टेलीविजन दुनिया का सबसे लोकप्रिय मनोरंजन का साधन बना हुआ है।


टेलीविजन ही है जो आपको दिनभर की छोटी बड़ी खबरों से रूबरू करता है। टेलीविजन के माध्यम से ही आप सात समुद्र पार खेले जा रहे खेलों का आनंद घर बैठे उठाते हैं। टेलीविजन पर ही आप फिल्मों को, सीरियल को देख कर मजा लेते हैं।


Television का आविष्कार किसने किया?


यूं तो टेलीविजन का आविष्कार एक बार में नहीं हुआ है। सबसे पहले जॉन लॉगी बेयर्ड(John Logie Baird) ने मैकेनिकल टेलीविजन का आविष्कार किया था। उसके बाद फिलो फार्नवर्थ(Philo Farnsworth) ने इलेक्ट्रिकल टेलीविजन का आविष्कार किया था। वहीं चार्ल्स फ्रांसिस जेनकिंस(Charles Francis Jenkins) को भी टेलीविजन का आविष्कारक माना जाता है।


यानी आधुनिक television के आविष्कार में किसी एक ही वैज्ञानिक का हात नहीं बल्कि कई वैज्ञानिकों का अहम हिस्सा रहा है। जिसमें खासकर के जॉन लॉगी बेयर्ड, फिलो फार्नवर्थ और चार्ल्स फ्रांसिस जेनकिंस इन तीन वैज्ञानिकों का सबसे बड़ा योगदान है। अगर आप गूगल पर भी ‘Who Invented Television‘ सर्च करते हो तो आपको एक नही बल्कि ये 3 नाम ही देखने को मिलेंगे।


Mechanical television का आविष्कार


दुनिया में सबसे पहले अस्तित्व में आए मैकेनिकल टेलीविजन का आविष्कार 25 मार्च 1925 को जॉन लॉगी बेयर्ड ने लंदन के एक स्टोर में किया था। मैकेनिकल टेलीविजन में उन्होंने तस्वीरों को गतिमान करके दिखाया था। हालांकि इस टीवी में दिखाए गये तस्वीरें धुंधले नज़र आते थे। यही नहीं अन्य कमियों के कारण इसे उतनी पहचान नहीं मिली। जॉन लॉगी बेयर्ड ने अपने इस आविष्कार का नाम The Televisor रखा था।


आपको बता दें कि, अखबारों की मदद से John logie Baird ने अपने इस आविष्कार को लोगों तक पहुंचाने का काम किया था। 


जॉन लॉगी बेयर्ड एक स्कॉटिश आविष्कारक और इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे, जिनका जन्म 13 अगस्त 1888 को ग्लैसगो के पास हैलन्सबर्ग में हुआ था।


Electronic Television का आविष्कार


7 सितंबर 1927 को अमेरिका के आविष्कारक फिलो फार्नवर्थ ने इलेक्ट्रॉनिक टेलीविजन का आविष्कार किया था, जो मैकेनिकल टेलीविजन से थोड़ा अलग था। इसमें और भी features add की गई थे। आपको बता दें कि, फिलो फॉर्नवर्थ ने इसके आविष्कार के एक साल बाद  इस टेलीविजन को दुनिया के सामने रखा था।


वैसे तो टेलीविजन के आविष्कार में कई वैज्ञानिकों ने अहम योगदान दिया है, लेकिन सबसे पहले इलेक्ट्रॉनिक टेलीविजन बनाने वाले फिलो टेलर फर्नवर्थ को टेलीविजन का आविष्कारक माना जाता है। उन्होंने केवल 21 साल की उम्र में ही टेलीविजन का अविष्कार कर दिया था।


अमेरिकी आविष्कारक फिलो द्वारा बनाया गया यह इलेक्ट्रॉनिक टेलीविज़न black & white था। जिस कारण अब अन्य वैज्ञानिक रंगीन टेलीविजन के आविष्कार करने के लिए उत्सुक थे।


 Color television का आविष्कार


जर्मन इंजीनियर वेर्नर फ्लेच्सिग(Werner flechsign) ने 1938 में shadow mask तकनीक के जरिए रंगीन टेलीविजन का आविष्कार किया। और 1939 में इस टीवी को पहली बार न्यूयॉर्क के वर्ल्ड फेयर और सैन फ्रांसिस्को अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनी के दौरान प्रदर्शित किया गया। 


वेर्नर फ्लेच्सिग(Werner flechsign) द्वारा रंगीन टीवी के आविष्कार के बाद अन्य कई प्रकार के रंगीन टेलीविजन का आविष्कार किया गया, जिसमें अलग अलग टेक्नोलॉजी का का इस्तेमाल किया गया था। और टेलीविजन को और भी बेहतर बनाया गया।


टेलीविजन बिक्री की शुरुआत


इस प्रकार टेलीविजन का आविष्कार किया गया। लेकिन सन 1939 तक किसी भी टेलीविजन को सार्वजनिक तौर पर बेचा नहीं गया। ऐसे में सबसे पहले DuMont कंपनी ने टेलीविजन के विनिर्माण करने का कार्य हात में लिया। DuMont कंपनी ने 1939 में टेलीविजन बनाने की शुरुआत की और 1946 तक यह कंपनी दुनिया की सबसे बड़ी टेलीविजन निर्माता कंपनी बन गई। इस कंपनी का मुख्य उद्देश्य टेलीविज़न को बेचना था। उस समय Dumont कंपनी ने टेलीविजन को दुनिया भर में बेचा था और लोग टेलीविजन को खरीद भी रहे थे और घर बैठे मनोरंजन भी कर रहे थे।


उस समय दुनिया भर में टेलीविजन की मांग खूब थी। और इसी मांग को देखते हुए इस इंडस्ट्री में कई अन्य कंपनियों ने भी अपना हात आजमाया। और टेलीविजन को बेहतर से बेहतर बना कर बाजार में उतारा।


भारत में टेलीविजन की शुरुआत कब हुई


भारत में टेलीविजन का पहला प्रसारण 15 सितंबर 1959 को दिल्ली में हुआ था। और यह प्रसारण प्रयोगात्‍मक आधार पर आधे घण्‍टे के लिए शैक्षिक और विकास कार्यक्रमों के रूप में शुरू किया गया था। शुरुआत में इसे 'टेलीविजन इंडिया' नाम दिया गया था, लेकिन बाद में इसे बदल कर दूरदर्शन किया गया। टेलीविजन को हिंदी में दिया गया दूरदर्शन नाम इतना लोकप्रिय हुआ कि, टेलीविजन का हिंदी पर्याय बन गया


भारत में सबसे पहले दिल्ली में शुरू की गई टेलीविजन सेवा 1975 तक देश के सात बड़े शहरों में पहुंच पाई। उस समय सिर्फ दूरदर्शन चैनल ही टीवी प्रसारण के लिए हुआ करता था। सन 1982 में भारत में रंगीन टेलीविजन की शुरुआत भी हो गई। भारत में टेलीविजन आने के बाद कई सालों तक सिर्फ दूरदर्शन ही एक मात्र चैनल था, लेकिन 1992 में zee tv के रूप में पहला प्राइवेट टीवी चैनल शुरू हुआ। आपको बता दें कि, एक रिपोर्ट के मुताबिक वर्तमान में भारत में 850 से ज्यादा टीवी चैनल मोजूद है।


ये भी पढ़ें ; क्या होता हैं MSP, जानिए फुल फॉर्म, इतिहास और लाभ


टेलीविजन के रोचक तथ्य :


* 1925 में जॉन लॉगी बेयर्ड ने सबसे पहले टेलीविजन का आविष्कार किया था।


* 1927 में फिलो फार्नवर्थ ने इलेक्ट्रॉनिक टेलीविजन का आविष्कार किया।


* 1928 में अमेरिका में दुनिया का पहला टेलीविजन स्टेशन लगाया गया था।


BBC(The British Broadcasting Corporation) ने 1930 में टेलीविजन पर प्रसारण आरंभ किया था।


* 1936 तक टेलीविज़न में 12 इंच का स्क्रीन होता था और टीवी के साथ बड़े बड़े उपकरण भी होते हैं।


* 1938 में वेर्नर फ्लेच्सिग ने shadow mask तकनीक के जरिए कलर टेलीविजन का आविष्कार किया।


* 1939 में DuMont कंपनी ने सबसे पहले टीवी बेचने के इरादे से टेलीविजन का विनिर्माण कार्य शुरू किया।


* 1950 में जेनिथ ने सबसे पहले टेलीविजन रिमोट कंट्रोल बनाया गया था। इसे टेलीविजन की wire के साथ जोड़ा गया था।


* 1955 में यूजीन पोली ने टीवी रिमोट का आविष्कार किया था। जिसमें Radio waves का उपयोग किया जाता है।


* 15 सितंबर 1959 को भारत में टेलीविजन का सबसे पहला प्रसारण दिल्ली में किया गया था।


* 1960 में पूरी दुनिया में लगभग 100 मिलियन से भी अधिक टेलीविजन खरीदे गए थे।


* टेलीविजन के शुरुआत से 1970 तक सर्वाधिक black and Wight tv चलता था, लेकिन 1972 तक आते आते color टेलीविजन ने बाजार में जगह बना ली थी।


* सन 1982 में सबसे पहले भारत में कलर टीवी की शुरुआत हुई थी। लेकिन इससे पहले अमेरिका में 1953 में पहली बार color tv का प्रसारण किया गया था।

* भारत का सबसे पहला private tv channel, Zee TV हैं। इसकी शुरुआत 2 अक्टूबर 1992 में की गई थी।


* हर साल 21 नवंबर को वर्ल्ड टेलीविजन डे मनाया जाता हैं।


आखिर में...


तो आप ने जान लिया कि, टेलीविजन का आविष्कार किसने और कब किया। सबसे पहले मैकेनिकल टेलीविजन का आविष्कार किया गया। और उससे प्रेरित होकर इलेक्ट्रॉनिक टेलीविजन का आविष्कार किया गया, जो ब्लैक एंड व्हाइट था। बाद में कलर टेलीविजन का आविष्कार किया गया। इस प्रकार टेलीविजन अस्तित्व में आया और लोगों का मनोरंजन का मुख्य साधन बन गया।

वर्तमान में जो टेलीविजन सेट बाजार में उपलब्ध है वो कितने स्मार्ट है ये तो आप सब जानते ही है। आज के modern television में आपको दुनिया भर के हजारों चैनल्स देखने को मिलते हैं। इसके अलावा आप टीवी पर you tube, OTT Platform चलाकर देख सकते हैं। Games खेल सकते हैं, video calling कर सकते हैं, यहां तक की आप टेलीविजन पर इंटरनेट का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन ये सब पहले की टेलीविजन में नहीं था। पहले आप केवल टीवी में जो चैनल्स आते थे उन्हें ही देख सकते थे। TV में आपको दूसरी कोई सुविधा नहीं मिलती थी।


समय के साथ साथ टेलीविजन कितना आधुनिक होता जा रहा है यह आप देख ही रहे हैं। और भविष्य में टेलीविजन कितना बदल जाएगा इसका अंदाजा लगाना इतना आसान नहीं है।

तो आशा करते हैं टेलीविजन का आविष्कार किसने और कब किया यह बहुत पसंद आया होगा। इस लेख को लेकर आपकी मन की बात को हमारे साथ जरूर शेयर करें।

और ऐसे ही ज्ञानवर्धक बातों को जानने के लिए www.anmolhindi.in के साथ जुड़े रहे। धन्यवाद

आपको यह भी पसंद आएंगे ;


Reactions

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ