गुरु नानक देव जी के 15 अनमोल वचन, बनाए अपने जीवन को सफल

सिख धर्म संस्थापक और सिखों के प्रथम गुरु, गुरु नानक देव जी की जयंती हर साल कार्तिक माह के पूर्णिमा तिथि को प्रकाश पर्व के रूप में मनाई जाती हैं. और यह दिन यानी यह पर्व सिखों के लिए बहुत ही महत्व रखता हैं. गुरु नानक देव जी बचपन से ही परमात्मा के खोज में थे. माना जाता हैं कि, बालपन में उनके दोस्त खेल-कूद में व्यस्त रहते थे, तो वहीँ गुरु नानक एकांत में आध्यात्मिक चिंतन और सत्संग में व्यस्त रहते थे. गुरु नानक देव जी कहते हैं "ईश्वर एक है, वह सभ जगहों पर मौजूद रहते हैं. हमें सभों के साथ प्रेम भाव से रहना चाहिए क्योंकि वहीँ हम सबका पिता हैं." 


गुरु नानक देव जी के अनमोल विचार, Guru Nanak Dev Quotes in Hindi
गुरु नानक देव जी के अनमोल वचन


गुरु नानक देव ने अपनी पूरी जिंदगी लोगों के हित के लिए कुर्बान कर दी. उनके द्वारा दी गई सिख हरेक के लिए बहुत ही प्रेरणादायक हैं. आज भी लोग उनकी दी गई सीख को मन में रख कर सफल जीवन जीते हैं. तो आइए गुरु नानक देव जी के इन 15 अनमोल वचन को अपने जीवन में अमल कर के अपने जीवन को बनाए सफल.


गुरु नानक देव जी के अनमोल विचार, Guru Nanak Dev Quotes in Hindi


1) केवल वही बोले, 
जो आपको मान-सम्मान दिलाये.


2) यदि तू अपने दिमाग को शांत रख सकता है,
तो तू विश्व पर विजयी होगा.


3) जो इंसान कड़ी-मेहनत करके कमाता है, 
और अपनी मेहनत की कमाई में से थोड़ासा भी दान करता है, वह सत्य मार्ग ढूँढ लेता है.


4) कठिनाईयों से भरी इस दुनिया में जिसे अपने आप पर भरोसा होता है, वही विजेता कहलाता है.

5) अपने जीवन में कभी ये न सोचे कि, 
यह असंभव है.


6)  हमेशा दूसरों की मदद के लिए तैयार रहो. 
क्योंकि जब आप किसी की मदद करते हैं,
तो ईश्वर आपकी मदद करता है.


7) जो प्रेम किया करते है,
उन्होंने ईश्वर को पा लिया है.


8) ईश्वर का नाम तो सभी लेते हैं किन्तु सब उनके रहस्य का थाह नहीं पा सकता है. 
यदि कोई गुरु की कृपा से अपने मन में ईश्वर का नाम बिठा ले,
तो ही उसे फल प्राप्ति हो सकती है.


9) जिसे खुद पर विश्वास हो, 
वही भगवान पर विश्वास कर सकता है. 


10) ऐसे मनुष्य के आगे कभी भी अपना सिर मत झुकावों, 
जो दूसरों की भिक्षा पर गुजारा करके अपने आप को उपदेशक समझता हो.
जो खुद परिश्रम करके अपनी जीविका चलाता हो और दूसरों की सेवा करता हो,
वही सही मार्गदर्शक हो सकता हैं.


11) ऐसे लोग जिनका मुंह और जीभ स्वच्छ और शुद्ध हैं,
वे अनेक इंसानों को स्वच्छ और शुद्ध बना देते हैं.


12)  ईश्वर सब जगह मौजूद है हम सबका पिता है,
इसलिए हमे सबके साथ मिलजुलकर प्रेमपूर्वक रहना चाहिए.


13) उन लोगों का यमदूत भी कुछ नहीं कर पाता, 
जो लोग अपने निवास स्थान पर शांति से जीवन व्यतीत करते हैं.


14) संसार को जीतने के लिए अपने कमियों और विकारो पर विजय पाना भी जरुरी है.


15) कोई भी राजा कितना भी धन से भरा क्यू न हो,
लेकिन उनकी तुलना उस चीटी से भी नही की जा सकती है,
जिसमे ईश्वर का प्रेम भरा हुआ हो.


16) इंसान अपना जीवन सोने और खाने-पिने  में गवां देता है,
और उनका महत्वपूर्ण जीवन बर्बाद हो जाता है।


तो आशा करते हैं, गुरु नानक देव जी के ये अनमोल वचन आपको अपना जीवन सफल बनाने में मददगार साबित होंगे.

यह लेख आपको कैसा लगा, कमेंट सेक्शन में जरूर बताए. धन्यवाद

Reactions

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ